बजाज फिनसर्व ने ‘बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य’ कि जागरूकता के लिए, #StrikeOutChampionship अभियान का किया लॉन्च

Healthबजाज फिनसर्व ने ‘बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य’ कि जागरूकता के लिए, #StrikeOutChampionship...

Date:

तीन चैलेंजेज़ के माध्यम से यह अभियान लोगों को इसमें हिस्सा लेने के लिए प्रेरित करेगा तथा भारत में बच्चों को प्रभावित करने वाले मुद्दों जैसे भुखमरीगरीबी और कुपोशण के बारे में जागरुकता बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा 

पुणे, 3 जुलाई, 2019 : भारत के अग्रणी फाइनेन्शियल सर्विस ग्रुप बजाज फिनसर्व ने भारत में बच्चों को प्रभावित करने वाले स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों पर जागरुकता बढ़ाने के लिए #StrikeOutChampionship अभियान का लॉन्च किया है। एक महीने तक चलने वाले इस अभियान में तीन चुनौतियां (चैलेन्ज) शामिल हैं; पहली चुनौती है ‘शो  यॉर मार्क’ जिसके बाद आगामी सप्ताहों में दूसरी और तीसरी चुनौती होगी। यह अभियान सभी लोगों के लिए खुला है और देश के बच्चों के स्वास्थ्य के स्तर में सुधार लाने के बारे में जागरुकता बढ़ाने में महत्वपूर्ण भुमिका निभाएगा।

अभिनेत्री नेहा धूपिया ने इंस्टाग्राम पर पहले चैलेंज का लॉन्च किया और फॉलोवर्स से अपील की है कि इसमें सक्रियता से हिस्सा लें। कोई भी व्यक्ति अपनी बाजु पर टीके (वैक्सीनेशन) के निशान की तस्वीर को सोशल मीडिया हैण्डल पर पोस्ट कर पहले चैलेंज ‘शो यॉर मार्क’ में हिस्सा ले सकता है। प्रतिभागियों को @Bajaj_Finserv  को टैग करना होगा और अपने फेसबुक एवं ट्विटर प्रोफाइल पर हैशटैग #StrikeOutChampionship का इस्तेमाल करना होगा। प्रतिभागी चैलेन्ज लेकर और नेटवर्क में शेयिरिंग के ज़रिए विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से पॉइन्ट्स स्कोर कर सकते हैं।

भुखमरी, कुपोशण, बच्चों के विकास में अवरोध तथा बचपन की विभन्न बीमारियों को हराना बजाज फिनसर्व के अभियान #StrikeOutChampionship का मुख्य उद्देश्य है। पहले चैलेंज के बाद दूसरा और तीसरा चैलेंज होगा, जिसके साथ अभियान और अधिक रोचक एवं अनूठा होता चला जाएगा। तीनों चैलेंजेज़ में सबसे ज़्यादा पॉइन्ट्स स्कोर करने वाले प्रतिभागी को #StrikeOutChampionship का चैम्पियन घोशित किया जाएगा।

भारत एक विकासशील अर्थव्यवस्था है, फिर भी देश में हर तीसरा बच्चा कुपोशण से ग्रस्त है, हर साल दो मिलियन बच्चों की मृत्यु ऐसी बीमारियों के कारण हो जाती है जिन्हें रोकना संभव है। नवजात शिशओं की मुत्यु दर की बात करें तो ये आंकड़े दुनिया में सबसे ज़्यादा हैं। भारत में साफ पेय जल,सेनिटेशन, उचित पोशण एवं मूल स्वास्थ्य सेवाओं की कमी के कारण 2017 में 802,000 नवजात शिशओं की मृत्यु हुई। बजाज फिनसर्व ने बच्चों को प्रभावित करने वाली भुखमरी, गरीबी, कुपोशण, रोकथाम योग्य बीमारियों एवं स्वास्थ्य से जुड़े विभिन्न मुद्दों के उन्मूलन के लिए कई एनजीओ के साथ साझेदारी की है। इनमें से कुछ एनजीओ साझेदार हैं स्माइल ट्रेन इण्डिया, उमंग फाउन्डेशन, उम्मीद चाइल्ड डेवपलमेन्ट सेंटर, संगठ, कडल्स फाउन्डेशन,हृदय फाउन्डेशन जो बच्चों के स्वास्थ्य, कल्याण एवं पोशण की दिशा में कार्यरत हैं।

बजाज फिनसर्व का अभियान #StrikeOutChampionship आम जनता को जागरुक बनाने की दिशा में एक प्रयास है, ताकि वे बच्चों को स्वस्थ, खुशहाल एवं बीमारियों से मुक्त जीवन जीने में अपना योगदान दे सकें। इस अभियान में हिस्सा लेने के लिए लॉग ऑन करें  www.bajajfinservstrikeoutchampionship.in

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

Actor Noor Malabika Das Found Dead In Mumbai Flat, Suicide Suspected

Actor Noor Malabika Das was found dead in her...

PM Modi approved PM-Kisan 17th installment, How to check?

On 10th June, Prime Minister Narendra Modi released the...

How to Apply for PAN Card Online in India – A Complete Guide

Applying for a PAN card online in India has...

Terror Attack in Reasi Raises Security Concerns

At least ten people lost their lives when a...